क्या है स्टॉर्म एरिया 51 नारुटो रन इवेंट?

दुनिया के नक्शे पर एरिया 51 नाम से प्रसिद्ध यह अमेरिकी एयर फ़ोर्स बेस, लास वेगास से करीब 135 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। यह नेवादा नाम के एक रेगिस्तान में बसा है। कुछ वर्षों से चर्चा में रहने वाले इस स्थान के बारे में कहा जाता है कि यहां एलियंस पर रिसर्च की जाती है और यूएफओ जैसी चीजों पर टेस्टिंग भी की जाती है। परंतु इन चर्चाओं पर अभी तक कोई भी पुष्टि नहीं की गई है।

Area 51 Satellite Photo

एरिया 51 की सबसे अनूठी बात यह है कि कोई भी नहीं जानता कि वास्तव में इस जगह पर होता क्या है। स्थानीय लोगों को भी सावधानी दे कर यहां से दूर रहने को कहा जाता है। यहां तक कि यह भी माना जाता है कि इस इलाके के ऊपर से किसी जहाज़ के उड़ने पर भी मनाही है।

कैसे शुरू हुआ “स्टॉर्म एरिया 51” ?

जुलाई के महीने में इस राज़ का खुलासा होने की काफी चर्चा की जा रही थी। कहा जा रहा था कि इस इलाके का राज़ 20 सितंबर को खोला जाएगा। इसी कारण पिछले कुछ महीनों से इस खबर ने सुर्खियों में जगह बनाई हुई थी।

जुलाई में फेसबुक पर ” स्टॉर्म एरिया 51” नाम का एक इवेंट बेहद प्रचलित होने लग गया। इस प्रोग्राम का पूरा शीर्षक था ” स्टॉर्म एरिया 51: वह हम सबको नहीं रोक सकते” । एरिया 51 पर्यटकों में अलिएं सेंटर नाम से प्रचलित है।

इवेंट के फेसबुक पेज पर करोड़ों लोगों को यहां एकत्रित करने की बात की जा रही थी। उनका मानना था कि की अगर हम ‘नरूटो रन’ के तरीके से भागें तो हम बुलेट को भी पीछे छोड़ सकते हैं। इस इवेंट में हिस्सा लेने के लिए कई तरीकों से लोगों को प्रेरित किया जा रहा था। घुसपैठ करने के लिए लाखों की भीड़ में लोग आने का विचार कर रहे थे।

storm area 51 event

क्या रहा इस सब पर सरकार का जवाब ?

ज़ाहिर सी बात है कि सरकार ने इस पूरे घटनाक्रम पर अपनी नाराज़गी जताते हुए लोगों को इस एरिया में आने के लिए मना किया। यह एरिया अमेरिकी वायुसेना का ओपन ट्रेनिंग रेंज है, इसलिए इसकी रक्षा करना उनका कर्तव्य है। सरकार ने लोगों को आश्वासन देते हुए कहा कि वह देशवासियों और देश की रक्षा के लिए सदैव तत्पर रहेंगे।

कैसे हुआ यह शोर समाप्त ?

दूसरी ओर आयोजकों का कहना है कि यह सब केवल एक मज़ाक था। मैक एंड्रयूज के पोस्ट पर भी आयोजकों ने सरकार को जवाब देते हुए कहा कि यह सब सिर्फ एक मज़ाक था, उनका वास्तव में वहां जाने का कोई भी विचार नहीं था। उन्होंने कहा कि यह सब सिर्फ उन्होंने सोशल मीडिया पर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए किया था। उनका मक़सद सिर्फ लोगों से लाइक्स बटोरना था। उन्होंने खुद को इस सब के लिए ज़िम्मेदार ना मानते हुए कहा कि अगर लोग वहां भीड़ ले कर पहुंच जाएं तो इसमें उनका कोई दोष नहीं है। इस इवेंट की शुरुवात करने वाले 20 साल की मैटी ने भी इस प्रोग्राम से अपना नाम बाहर कर लिया।

इस प्रोग्राम के लिए जो भी दोषी है, उन सबकी गिरफ्तारी शुरू कर दी गई है। दो यूट्यूबर्स , इक्कीस साल जैकब स्वीप और 20 साल के ग्रेंजियर भी इस इवेंट में हिस्सा लेने वाले थे। परंतु एरिया 51 के आस पास अतिक्रमण करने के अपराध में दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

बराक ओबामा यू.इस. के ऐसे पहले राष्ट्रपति थे जिन्होंने अपने भाषण में लोगों को संबोधित करते हुए पहली बार एरिया 51 का ज़िक्र किया था। माना जाता है कि इसका निर्माण अमेरिका और सोवियत रूस के शीतयुद्ध के दौरान किया गया था। इसका निर्माण जहाज़ के विकास और टेस्टिंग के लिए किया गया था। 1955 में बने इस एरिया की खोज अगस्त 2013 में सी.आई.ए द्वारा की गई थी। परंतु आज तक इस स्थान ने लोगों के दिमाग में कई सवाल पैदा कर रखे हैं।

 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *