श्री गणेश चालीसा

भगवान श्री गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा जाता है। श्री गणेश चालीसा (Shri Ganesh Chalisa) का जाप पूरे ध्यान और भक्ति के साथ करने से गणेश जी का आर्शीवाद प्राप्त होता है और सारे विघ्न दूर होते हैं। ॥ श्री गणेश चालीसा ॥ ॥ Shri Ganesh Chalisa ॥ ॥ दोहा ॥जय गणपति सद्गुणसदन कविवर बदन … Read more

भगवान श्रीहरि विष्णु चालीसा ! Shri Vishnu Chalisa

भगवान श्रीहरि विष्णु सम्पूर्ण जगत के पालनहार हैं। उन्होंने समय-समय पर आसुरी शक्तियों का नाश करने के लिए कई बार अवतार लिया है। श्री विष्णु चालीसा (Shri Vishnu Chalisa) का पाठ करने से सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। तथा बुद्धि, धन-बल और ज्ञान की प्राप्ति होती है। उनकी कृपा से ही इंसान सारे कष्ट दूर … Read more

श्री शिव चालीसा ! Shri Shiv Chalisa

Shri Shiv Chalisa

श्री शिव चालीसा (Shri Shiv Chalisa) भगवान शिव को समर्पित एक भक्ति गीत है। भगवान महादेव आशीर्वाद पाने के लिए इसे दैनिक पूजा में पूरे ध्यान और भक्ति के साथ पढ़ना चाहिए। ॥ दोहा ॥ जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान। कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय वरदान॥ ॥ चौपाई ॥ जय गिरिजा पति दीन … Read more

श्री हनुमान चालीसा

ॐ श्री हनुमते नमः ।।दोहा।। श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि।बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।।बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार।बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेश बिकार।। ।।चौपाई।। जय हनुमान ज्ञान गुन सागर।जय कपीस तिहुं लोक उजागर।। रामदूत अतुलित बल धामा।अंजनि-पुत्र पवनसुत नामा।। महाबीर बिक्रम बजरंगी।कुमति निवार सुमति के संगी।। कंचन … Read more

महिषासुरमर्दिनी स्तोत्रम्

अयि गिरिनन्दिनि नन्दितमेदिनि विश्वविनोदिनि नन्दिनुतेगिरिवरविन्ध्यशिरोऽधिनिवासिनि विष्णुविलासिनि जिष्णुनुते ।भगवति हे शितिकण्ठकुटुम्बिनि भूरिकुटुम्बिनि भूरिकृतेजय जय हे महिषासुरमर्दिनि रम्यकपर्दिनि शैलसुते ॥ १ ॥ सुरवरवर्षिणि दुर्धरधर्षिणि दुर्मुखमर्षिणि हर्षरतेत्रिभुवनपोषिणि शङ्करतोषिणि किल्बिषमोषिणि घोषरतेदनुजनिरोषिणि दितिसुतरोषिणि दुर्मदशोषिणि सिन्धुसुतेजय जय हे महिषासुरमर्दिनि रम्यकपर्दिनि शैलसुते ॥ २ ॥ अयि जगदम्ब मदम्ब कदम्ब वनप्रियवासिनि हासरतेशिखरि शिरोमणि तुङ्गहिमलय शृङ्गनिजालय मध्यगते ।मधुमधुरे मधुकैटभगञ्जिनि कैटभभञ्जिनि रासरतेजय जय हे महिषासुरमर्दिनि … Read more

श्री महामृत्युंजय स्त्रोत पाठ

Shri Maha Mrityunjaya Stotram

श्री महामृत्युंजय स्तोत्र को सभी बुराइयों को दूर करने, मृत्यु के भय को दूर करने और सभी इच्छाओं की प्राप्ति वाला माना जाता है। श्री महामृत्युंजय स्तोत्र  की रचना ऋषि मार्कंडेय ने की थी। यह सबसे शक्तिशाली स्तोत्र में से एक है। ॥ श्री महामृत्युंजय स्तॊत्रम्‌ ॥. ॐ अस्य श्री महा मृत्युंजय स्तॊत्र मंत्रस्य श्री … Read more

श्री आदित्य हृदय स्तोत्र

shri aditya hridya stotra

श्री आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करने से भय, नकारात्मक सोच, घबराहट जैसी समस्याओं से मुक्ति मिलती है। नियमित रूप से पाठ करने से कार्य क्षेत्र में उन्नति, मान प्रतिष्ठा में वृद्धि और कीर्ति प्राप्त होती है। विनियोग ॐ अस्य आदित्य हृदयस्तोत्रस्यागस्त्यऋषिरनुष्टुपछन्दः, आदित्येहृदयभूतो भगवान ब्रह्मा देवता निरस्ताशेषविघ्नतया ब्रह्मविद्यासिद्धौ सर्वत्र जयसिद्धौ च विनियोगः। श्री आदित्य हृदय … Read more