मंगल नाम का अर्थ, राशि, शुभ रंग जानिए

मंगल नाम का अर्थ Meaning of Mangal की तलाश कर रहे हैं तो आप बिलकुल सही स्थान पर है।

इस पोस्ट में हमने आपकी उस खोज का ध्यान रखते हुए मंगल नाम से जुडी हर प्रकार की जानकारी जुटाने की कोशिश की है।

मंगल नाम के अर्थ के साथ इस नाम से जुडी और भी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है। जैसे नाम की राशि,  शुभ अंक, मित्र राशि , नक्षत्र और शुभ रंग आदि।

मंगल नाम का अर्थ/Meaning of Mangal in Hindi

नाम मंगल
नाम का अर्थ शुभ, कल्याण, हाल चाल, अग्नि
लिंग लड़का
धर्म हिन्दू
राशि सिंह राशि
अंकज्योतिष 3
शुभ रंग लाल, नारंगी, सफ़ेद
शुभ रत्न माणिक्य रत्न/Ruby gem
स्वामी ग्रह सूर्य
मित्र राशि मेष, कन्या, धनु

म अक्षर से और नाम – महिमा, मनदीप, मंजीत, महावीर

मंगल नाम के व्यक्ति का व्यक्तित्व कैसा होता है ?

सिंह राशि का स्वामी सूर्य है। इस राशि में जन्म लेने वाले जातक/जातिका सुन्दर-पुष्ट शरीर वाला, चौड़ा मस्तक, सुगठित, आकर्षक एवं प्रभावशाली व्यक्तित्व का होगा।

इसके जातक बुद्धिमान कर्मठ, निडर, उद्द्यमी, पराक्रमी, नीति के अनुसार आचरण करने वाला, खानपान का शौकीन, देश विदेश भ्रमण का शौक रखने वाला, शीघ्र उत्तेजित होने की प्रवृति होने पर भी अपनी बुद्धि से स्तिथि को संभल लेने वाला होगा।

मंगल नाम की राशि क्या है ?

इस नाम की राशि सिंह है। इसके जातक निडर, पराक्रमी, कर्मठ, नीति के अनुसार आचरण करने वाला, खानपान, देश विदेश भ्रमण का शौक रखने वाला, शीघ्र उत्तेजित होने की प्रवृति होने पर भी हर स्तिथि को सँभालने वाला होगा।

 मामूली बातों को भी अपेक्षा की दृष्टि से देखने वाला होगा। तथा बड़े-बड़े कामों को भी अपने उद्द्यम द्वारा पूरा करने में तत्पर रहेगा।

उच्चाभिलाषी होने के कारण प्रत्येक कार्य व्यवसाय को बड़े पैमाने एवं उच्चस्तर पर करना पसंद करेगा।

उच्चस्तरीय वैभवशाली जीवन यापन करने की प्रबल इच्छा रखेंगे। जन्म कुंडली में शनि अशुभ हो, तो पारिवारिक सुख में कमी होती है।

मंगल नाम के व्यक्ति के गुण क्या है ?

हर काम को बड़े आत्मविश्वास के साथ और बड़े पैमाने पर करना पसंद करते हैं। वे स्पष्टवादी, खुले दिलवाले, और महत्वकांक्षी होते हैं। ये जातक जन्म से ही आशावादी होते हैं। और आसानी से निराशा का शिकार नहीं होते।

मंगल नाम का शुभ अंक क्या होता है ?

इस नाम शुभ अंक 1 होता है। ये सूर्य ग्रह के अधीन आते है। सूर्य के प्रभाव के कारण इनको किसी का भी निर्देश सुनना पसंद नहीं होता। इनको समाज और परिवार की ओर से मान-प्रतिष्ठा मिलती है।

शुभ अंक 1 वाले लोग बड़ी ईमानदारी से दोस्ती व प्रेम सम्बन्ध निभाते हैं। मुश्किल समय में भी यह सच्चाई का साथ कभी नहीं छोड़ते।

मंगल नाम का नक्षत्र क्या है ?

इस नाम का नक्षत्र मघा है। मघा नक्षत्र से सम्बंधित और अक्षर इस प्रकार है- म़ा, मी , मू, मे । इस नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह राज सिंहासन को माना जाता है।

मंगल नाम के लिए शुभ रत्न कौन सा है ?

सिंह राशि का रत्न माणिक्य है इसे सूर्य मणि भी कहते हैं सिंदूरी अथवा सुर्ख रंग का होता है

इसे सूर्य ग्रह की शांति के लिए रविवार को सोने अथवा तांबे की अंगूठी या उत्तर फाल्गुणी नक्षत्र हो तो अधिक अच्छा है।

ॐ घृणि सूर्याय नमः” बीज मंत्र का जाप करके धारण करने से तीव्र ज्वर, अतिसार, सिर पीड़ा, बवासीर, नेत्र आदि रोगों में शुभ है

याद रखें कि रत्न हर किसी व्यक्ति को लाभ नहीं पहुंचाते। कई बार इन्हे धारण करने से हानि भी हो सकती है।

इसलिए किसी अच्छे रत्नो के जानकार से एक बार अवश्य मंत्रणा करें। उसके मार्गदर्शन के बाद ही रत्न धारण करें।

लेख पढ़ने के लिए धन्यवाद। आपको सम्बंधित जानकारी कैसी लगी कृपया हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखिए और इसे शेयर अवश्य करें।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *