धनराज नाम का मतलब, राशि, शुभ अंक जानिए

Meaning of Dhanraj ढूंढ रहे हैं तो आप सही जगह पर है। इस पोस्ट में हमने धनराज नाम से सम्बंधित सारी जानकारियां आपके लिए जुटाई हैं।

जैसे धनराज नाम का मतलब, राशि, शुभ अंक, नक्षत्र आदि। तो आइये जानते हैं इस नाम से सम्बंधित सभी जानकारियां।

नामधनराज
नाम का अर्थभगवान कुबेर, हंसमुख, रचनात्मक, सक्रिय
लिंगलड़का
धर्महिन्दू
राशिधनु राशि/Sagittarius
अंकज्योतिष11
शुभ रंगपीला, सफ़ेद, जामुनी
शुभ रत्नपुखराज रत्न/Topaz gem
ग्रह स्वामीगुरु
मित्र राशिकर्क, वृश्चिक, कन्या

धनराज नाम का अर्थ क्या होता है ?

अपने बच्चे का नाम धनराज रखने की सोच रहे हैं ? तो इस नाम का अर्थ जान लीजिये। Meaning of Dhanraj होता है भगवान कुबेर, हंसमुख, रचनात्मक, सक्रिय

धनराज नाम के व्यक्ति का व्यक्तित्व कैसा होता है ?

इस राशि में उत्पन्न जातक का ऊंचा मस्तक, कान बड़े, गुरु-बुध की स्थिति शुभ हो तो सौम्य एवं शांत, सरल स्वभाव, धार्मिक प्रकृति, उदार हृदय, परोपकारी, संवेदनशील और करुणा आदि भावना से युक्त होगा।

दूसरों के मनोभाव को जान लेने की विशेष क्षमता होगी। इस राशि से प्रभावित व्यक्ति में बौद्धिक एवं मानसिक शक्ति प्रबल होती है।

धनराज नाम की राशि क्या है ?

धनराज नाम की राशि धनु है धनु राशि का स्वामी गुरु है। इस राशि में उत्पन्न जातक का ऊंचा मस्तक, कान बड़े, लग्न भाव में क्रूर ग्रह होने की स्थिति में सिर मध्य अल्प बाल अथवा गंजा हो सकता है।

द्विस्वभाव राशि के कारण शीघ्र कोई निर्णय नहीं ले पाएंगे। और इनको क्रोध जल्दी नहीं आता परंतु जब आता है तो देर तक क्रोधित रहते हैं।

अग्नि तत्व प्रधान होने के कारण इस राशि के स्त्री-पुरुष कठिन से कठिन समस्याओं को अपने साहस एवं परिश्रम द्वारा सुलझा लेंगे। तथा निजी सवारी आदि सुख की प्राप्ति होगी।

शिक्षक, धर्म प्रचारक, राजनीतिज्ञ, डॉक्टर, वकील, पुस्तक व्यवसाय आदि के क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी। धनु के जातकों के स्वभाव में आगे बढ़ने की बलवती भावना रहती है।

धनराज नाम के व्यक्ति के गुण क्या है ?

दूसरों के मनोभाव को जान लेने की विशेष क्षमता होगी। इस राशि से प्रभावित व्यक्ति में बौद्धिक एवं मानसिक शक्ति प्रबल होती है।

धनराज नाम के व्यक्ति की कमजोरियां क्या है ?

द्विस्वभाव राशि के कारण शीघ्र कोई निर्णय नहीं ले पाएंगे। और इनको क्रोध जल्दी नहीं आता परंतु जब आता है तो देर तक क्रोधित रहते हैं। उनकी उदारता का लोग प्रायः अनुचित लाभ उठाने का प्रयास भी करते हैं।

धनराज नाम का शुभ अंक क्या होता है ?

यह नाम गुरु ग्रह के अधीन आता है। धनराज नाम का शुभ अंक 3 है इस अंक के व्यक्ति बहुत रचनात्मक प्रवृति के होते है। ये लोग अपने परिवार के बहुत ही करीब होते है। दूसरों के मनोभाव को जान लेने की विशेष क्षमता होगी। इस राशि से प्रभावित व्यक्ति में बौद्धिक एवं मानसिक शक्ति प्रबल होती है।

धनराज नाम का नक्षत्र क्या है ?

इस नाम का नक्षत्र पूर्व आषाढ़ है। पूर्व आषाढ़ नक्षत्र से सम्बंधित और अक्षर इस प्रकार है- भू , ध, फ , ढ। इस नक्षत्र का चिन्ह हाथ के पंखे को माना जाता है।

धनराज नाम के लिए शुभ रत्न कौन सा है ?

इस राशि वालों को पुखराज रत्न 5,7,9 या 12 रत्ती के वजन का सोने की अंगूठी में जड़वा कर तर्जनी उंगली में धारण करें।

स्वर्ण एवं ताम्र के बर्तन में कच्चा दूध, गंगा जल, पीले पुष्पों एवं “ॐ ऐं क्लीं बृहस्पतये नमः” बीज मंत्र द्वारा अभिमंत्रित करके धारण करना चाहिए।

याद रखें कि रत्न हर किसी व्यक्ति को लाभ नहीं पहुंचाते। कई बार इन्हे धारण करने से हानि भी हो सकती है। इसलिए किसी अच्छे रत्नो के जानकार से एक बार अवश्य मंत्रणा करें। उसके मार्गदर्शन के बाद ही रत्न धारण करें।

लेख पढ़ने के लिए धन्यवाद। आपको सम्बंधित जानकारी कैसी लगी कृपया हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखिए और इसे शेयर अवश्य करें।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *