भक्ति नाम का मतलब, राशि, शुभ रंग जानिए

Bhakti Meaning in Hindi: भक्ति नाम का मतलब तलाश कर रहे हैं तो आप बिलकुल सही स्थान पर है। इस पोस्ट में हमने आपकी उस खोज का ध्यान रखते हुए भक्ति नाम से जुडी हर प्रकार की जानकारी जुटाने का प्रयास किया है।

नाम के अर्थ के साथ इस नाम से जुडी और भी जानकारी उपलब्ध कराई गयी है। जैसे भक्ति नाम की राशि, शुभ अंक, मित्र राशि, नक्षत्र और शुभ रंग आदि।

भक्ति नाम का अर्थ/Bhakti Meaning in Hindi

नामभक्ति/Bhakti
नाम का अर्थप्रार्थना, पूजा
लिंगलड़की
धर्मसनातनी हिन्दू
राशिधनु राशि/Sagittarius
अंकज्योतिष6
शुभ रंगपीला, सफ़ेद, जामुनी
शुभ रत्नपुखराज रत्न/Topaz
ग्रह स्वामीगुरु (बृहस्पति)/Jupiter
मित्र राशिमेष, सिंह

भक्ति नाम का अर्थ क्या होता है?

अपनी लाड़ली का नाम भक्ति रखने की सोच रहे हैं ? तो भक्ति नाम का अर्थ जान लीजिये। Bhakti Meaning in Hindi होता है अच्छी तरह से तैयार, भारतीय

भक्ति नाम की लड़कियों का व्यक्तित्व कैसा होता है?

इनका व्यक्तित्व सौम्य एवं शांत, सरल स्वभाव, धार्मिक प्रकृति, उदार हृदय, परोपकारी, संवेदनशील और करुणा आदि से युक्त होगा। भक्ति नाम की महिलाएं स्वतंत्र विचार रखती हैं। वे जिंदगी का महत्व को अच्छे प्रकार से समझते हैं।

इस नाम की लड़कियां भक्ति भाव रखती हैं। परन्तु ये रूढ़िवादी बातों से बहुत दूर रहना पसंद करती है ये अपने व्यक्तित्व के मुताबिक घरेलू रिश्तों को महत्व देती हैं।

भक्ति नाम की राशि क्या है?

भक्ति नाम की राशि धनु और ग्रह स्वामी बुध है। इस राशि में उत्पन्न जातक का ऊंचा मस्तक, कान बड़े, लग्न भाव में क्रूर ग्रह होने की स्थिति में सिर मध्य अल्प बाल अथवा गंजा हो सकता है।

गुरु-बुध की स्थिति शुभ हो तो सौम्य एवं शांत, सरल स्वभाव, धार्मिक प्रकृति, उदार हृदय, परोपकारी, संवेदनशील और करुणा आदि भावना से युक्त होगा।

दूसरों के मनोभाव को जान लेने की विशेष क्षमता होगी। इस राशि से प्रभावित व्यक्ति में बौद्धिक एवं मानसिक शक्ति प्रबल होती है। साथ-साथ अश्व जैसी तीव्रता, उत्साह एवं उत्तेजना से कार्य करने की क्षमता होगी।

भक्ति नाम की लड़कियों के गुण क्या है?

दूसरों के प्रति संवेदनशील और करुणा से युक्त होते हैं और उनके मनोभाव को जान लेने की भी विशेष क्षमता होगी।

भक्ति नाम का शुभ अंक क्या होता है?

ग्रह स्वामी बृहस्पति व शुभ अंक 3 है। शुभ अंक 3 वाले लोगों में दूसरों के मनोभाव को जान लेने की विशेष क्षमता होगी। साथ ही बौद्धिक एवं मानसिक शक्ति प्रबल होती है। साथ-साथ अश्व जैसी तीव्रता, उत्साह एवं उत्तेजना से कार्य करने की क्षमता होगी।

भक्ति नाम का नक्षत्र क्या है?

इस नाम का नक्षत्र मूल है। मूल से सम्बंधित अक्षर इस प्रकार है- ये, यो, भा, भी। ज्योतिष के अनुसार एक साथ बंधी हुई कुछ पौधों की जड़ों को मूल नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह माना जाता है।

भक्ति नाम के लिए शुभ रत्न कौन सा है?

भक्ति नाम वाले लोगों के लिए पुखराज रत्न शुभ होता है – सफेद और हल्दी रंग दोनों में मिलता है यह गुरु रत्न है इसे पुनर्वसु, विशाखा या पूरा नक्षत्र कालीन गुरुवार की प्रातः सूर्योदय के समय सोने की अंगूठी में तर्जनी उंगली में धारण करना चाहिए।

5 रत्ती का पुखराज अत्यंत प्रभावकारी होता है इसका बीज मंत्र यह है “ॐ ऐं श्रीं बृहस्पतये नम:” यह नग बल, बुद्धि, विद्या, संतान सुख व स्त्रियों के लिए सुख में विवाह जीवन के लिए विशेष शुभ है

याद रखें कि रत्न हर किसी को लाभ नहीं पहुंचाते। कई बार इन्हे धारण करने से हानि भी हो सकती है। इसलिए किसी अच्छे रत्नो के जानकार से एक बार अवश्य मंत्रणा करें। उसके मार्गदर्शन के बाद ही रत्न धारण करें।

लेख पढ़ने के लिए धन्यवाद। आपको सम्बंधित जानकारी कैसी लगी कृपया हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखिए और इसे शेयर अवश्य करें।

भक्ति बर्वेफिल्म अभिनेत्री
भक्ति चौहानअभिनेत्री
आपको यह जानकारी कैसी लगी?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

Leave a Comment