body shaming selena gomez

बढ़ते वजन के लिए सेलेना को करना पड़ा आलोचनाओं का सामना

राक्वेले स्टिवेंस के वीडियो पॉडकास्ट “गिविंग बैक जेनरेशन” पर सेलेना ने कई दिल की बातें दर्शकों के साथ शेयर करी।

उन्होंने बताया कि स्वप्रतिरक्षित रोग लूप्स से पीड़ित होने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर अपने बढ़ते वजन को ले कर कई आलोचनाओं का सामना करना पड़ा।

सेलेना ने कहा कि लूप्स के साथ साथ उन्हें हाई ब्लड प्रेशर और किडनी की तकलीफ़ भी है जिस वजह से उनके वजन में परिवर्तन आता रहता है।

इन बीमारियों और दवाइयों का उनके वजन पर सीधा असर पड़ता है। हर महीने उनके स्वास्थ्य के अनुसार उनका वजन बढ़ता घटता रहता है।

सोशल मीडिया पर उनके वजन पर काफी ट्रॉल भी बनाए गए। सेलेना ने बताया कि इन आलोचनाओं ने कुछ समय तक उन्हें बेहद परेशान भी किया था।

बिलिबोर्ड के साथ अक्टूबर 2015 में हुई एक इंटरव्यू में गोमज़ ने बताया था कि वह लूप्स नाम की बीमारी से पीड़ित हैं जिसके लिए वह रसायन चिकित्सा करवा रही हैं।

कुछ दो साल पहले भी सेलेना ने एक बड़ी ख़बर से अपने फैन्स को चौंका दिया था। उनकी सबसे प्रिय सहेली फ्रेंसिया रेसिया ने अपनी किडनी उन्हें दे कर उन्हें जीवनदान दिया था।

किडनी ट्रांसप्लांट की घोषणा इंस्टाग्राम पर करते हुए सेलेना ने कहा था की उनके फैन्स ने यह देखा ही होगा कि वह कुछ समय से गायब हो गई थीं और अपने नए गाने को भी नहीं प्रोमोट कर पा रही थी।

कारण बताते हुए सेलेना ने कहा कि लूप्स की बीमारी कि वजह से उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट करवाना पड़ा। उन्होंने अपनी सहेली के इस भव्य बलिदान के प्रति भी आभार व्यक्त किया था।

लूस यू टू लव मी” की गायिका सेलेना ने समय समय पर अपने फैन्स को उनकी प्रार्थनाओं और दुआओं के किया धन्यवाद दिया है।

परंतु जैसे की हम जानते ही हैं सोशल मीडिया पर जहां एक तरफ प्यार और दुआओं कि बरसात होती है, वहीं दूसरी ओर आलोचनाओं की भी कोई कमी नहीं होती।

ऐसी ही एक घटना सेलेना के साथ भी हुई। सितंबर 2018 में उन्होंने सोशल मीडिया से एक लंबा ब्रेक ले लिया था। इसका ज़िक्र उन्होंने अपनी पोस्ट में यह बताते हुए किया था कि कई बार लोगों को आलोचनाएं किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचा देती हैं।

5 महीने की लंबी ब्रेक के बाद गोमज़ जनवरी में इंस्टाग्राम पर लौटीं। उन्होंने पोस्ट के माध्यम से कहा की पिछला एक साल उनके लिए आत्म प्रतिबिंब और चुनौतियों से भरपूर था।

यह चुनौतियाँ ही हमें हमारी काबिलियत और साहस के बारे में बताती हैं और आगे बढ़ने का हौसला देती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें अपने पर गर्व है और वह नए साल का नई उम्मीदों से स्वागत करती हैं।

स्टिवेंस से बात करते हुए गोमज़ ने कहा कि उन्हें अब खुल कर अपनी बात कहने से डर नहीं लगता और ना ही लोगों की प्रतिक्रिया से। वह अपनी वर्तमान ज़िन्दगी से बेहद खुश और संतुष्ट हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *