Health Topics In Hindi

Pneumonia Symptoms in Hindi | निमोनिया से बच्चों को बचा सकते है

Pneumonia Symptoms in Hindi

507 total views, 1 views today

निमोनिया (Pneumonia Symptoms in Hindi) के वैश्विक मामलों में भारत की भागीदारी 20 फीसदी है। न्यूमोकोकल संयुग्म टीकों पीसीवी के वैक्सीन लगवाने से निमोनिया और कोई बीमारियों के होने की आशंका कम हो जाती है जिसमें कान या गले के हल्के संक्रमण और मेनिन्जाइटिस या रक्त के संक्रमण जैसी गंभीर बीमारियां शामिल हैं।

मेटर्नल निमोनिया के लक्षण

मेटर्नल निमोनिया की वजह से बच्चे के जन्म के समय कम वज़न और समय से पहले जन्म की आशंका रहती है, जिससे बच्चे के विकास संबंधी कुछ कमियां भी हो सकती हैं।

लोग आम तौर पर फ्लू होने और निमोनिया को पहचानने में गलती करते हैं और आमतौर पर इसके लक्षणों की उपेक्षा करते हैं।

उल्टी, थकान, गले में खराश, ठंड या भूख की कमी के लक्षण होते हैं।

इससे जन्म के बाद बच्चे को नुक़सान पहुंच सकता है।

अज्ञानता और इसे गर्भावस्था के लक्षण समझने के कारण स्थिति खराब होने तक पीड़ितों में संक्रमण का पता नहीं चल पाता है।

इससे माता और बच्चे के स्वास्थ्य में आगे जाकर भी कई तरह की कठिनाईयां हो सकती हैं।

Healthy Pregnancy with Diabetes in Hindi | शिशु को रखें मधुमेह से सुरक्षित

जोखिम

इसके लक्षण विशेष रूप से किशोरियों और युवा महिलाओं के बीच पाए जाते हैं।

धूम्रपान, चिकन पॉक्स से रिकवरी या कमजोर इम्यूनिटी इसकी वजह है।

Bladder Infection in Hindi | ब्लैडर इंफेक्शन

वैक्सीन,मेटाबॉलिज्म हैं मददगार

इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए बड़ों के लिए भी वैक्सीन उपलब्ध हैं।

अगर इम्यूनिटी कमजोर हो तो वह लगवाया जाता है।

मेटाबॉलिज्म बेहतर हो तो भी इससे बचा जा सकता है।

बुखार से राहत के लिए एंटी बैक्टीरियरल थैरेपी में पेन किलर्स के साथ क्रियान्वयन से राहत मिलती है।

Comment here