Jaundice Symptoms, Treatment Hindi

पीलिया से रहें सुरक्षित | Jaundice Symptoms, Treatment Hindi

मानसून में पीलिया के लगभग 60 फीसदी मामले दर्ज किया जाते है मगर आप थोड़ी सी सावधानी से इनसे बच सकते है। 

पीलिया Jaundice Symptoms Treatment Hindi कई प्रकार का होता है। सामान्य पीलिया जिसे वायरल हेपेटाइटिस कहते है।  ये बरसात के मौसम में होता है। ये दूषित पानी और दूषित भोजन के कारण होता है।

वायरल हेपेटाइटिस के सामान्य लक्षण

इसका इन्फेक्शन होने के लगभग 2-8 हफ्तों में इसके लक्षण दिखने शुरू होते है।

  • बहुत ज्यादा कमजोरी महसूस होना
  • थकान
  • उल्टी होना
  • मांसपेशियों में दर्द
  • भूख काम लगना
  • बुखार आना
  • मितली होना
  • यूरिन में पीलापन

इससे दूर रहने के उपाय

  • साफ़ पानी पियें, हो सके तो पानी उबाल कर पियें
  • घर का ही खाना खायें बाहर के खाने से बचें
  • घी तेल का इस्तेमाल का करें
  • मांस, मछली सेवन न करें
  • खाने में ज्यादा मसाले न डालें
  • खाना बनाने या खाने से पहले हाथ अच्छी तरह धो लें
  • साफ़ सफाई का ध्यान रखें

जब पीलिया Jaundice Symptoms Treatment Hindi का प्रभाव अपने चरम पर होता है मरीज़ को बहुत अधिक प्यास लगती है।

इसलिए मरीज़ बार-बार पानी पीता है पानी के अलावा मरीज़ को सब चीज़ों का स्वाद कडुवा लगता है।

पीलिया के कुछ कारण

ज्यादा मिर्च, सिरके वाले अचार का सेवन, नमक युक्त चीज़ों के का ज्यादा सेवन करना, इमली, सरसों, लौंग का अधिक सेवन ये सब चीज़ें पित्त बढाती है।

उपचार के कुछ आयुर्वेदिक तरीके

त्रिफला रस + नीम स्वरस + दारुहरिद्रा + गिलोय रस ये सब बराबर मात्रा में शहद के साथ लेने से पीलिया नष्ट होता है।

हरित का क्वाथ, आंवले का रस, द्रव्य जैसे, नीम, तुलसी, दारुहरिद्रा, इन से सबसे हर प्रकार के लिवर विकार नष्ट होता है।

पीलिया के लक्षण दिखाई देने पर जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह लें।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *