दाद खाज खुजली की समस्या से छुटकारा पाने के घरेलू उपचार

Home Remedies for Ringworm in Hindi : त्वचा के फंगल संक्रमण को दाद कहते हैं यह स्पष्ट रूप से कवक (Fungus) के कारण होने वाला एक त्वचा संक्रमण है। इसे टीनिया (Tinea) के नाम से भी जाना जाता है। दाद; खोपड़ी, नाखून, कमर क्षेत्र, पैर और शरीर के किसी अन्य भाग को प्रभावित कर सकता है।

दाद (Ringworm) एक लाल रिंग जैसी संरचना या उभरी हुई त्वचा वाली अंडाकार आकृति है और यह एक बहुत ही संक्रामक और बहुत आम त्वचा विकार है। यह किसी भी उम्र के व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है लेकिन बच्चों में बहुत आम है क्योंकि बच्चों के शरीर में सुरक्षात्मक फैटी एसिड की कमी होती है।

यदि कोई व्यक्ति दाद से प्रभावित होता है, तो उस व्यक्ति की त्वचा से दूसरे व्यक्ति की त्वचा के संपर्क में आने या अन्य कारणों जैसे कि कंघी, तौलिया / प्रभावित व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल किए गए कपड़े से यह संक्रमण फ़ैल सकता है।

दाद के घरेलू उपचार/Home Remedies for Ringworm in Hindi

(1) कच्चा पपीता

पपीता अच्छे घरेलू उपचारों में से एक है अपनी त्वचा के दाद प्रभावित क्षेत्र पर कच्चे पपीते के स्लाइस रगड़ें या आप कच्चे पपीते का पेस्ट तैयार कर सकते हैं और इसे प्रभावित क्षेत्र पर लगा सकते हैं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए दोनों उपाय बहुत मददगार हैं।

(2) सरसों के बीज

दाद के इलाज के लिए एक और प्राकृतिक घरेलू उपाय सरसों के बीज का पेस्ट है। दाद के क्षेत्र पर सरसों के बीज का पेस्ट लागू करें और थोड़ी देर बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें।

(3) टी ट्री आयल

प्रभावित जगह पर सीधे टी ट्री आयल लगायें इससे भी संक्रमण दूर रहेगा। आप एक दिन के भीतर परिणाम देख सकते हैं।

(4) काला अखरोट

संक्रमित क्षेत्रों पर काले अखरोट के अर्क को रोजाना लगायें। यह संक्रमण को ठीक करेगा।

(5) गाजर पालक का रस

गाजर के रस, पालक के रस को 3: 2 के अनुपात में मिलाएं और इसे पीएं। दाद के खिलाफ लड़ने के लिए यह एक बहुत प्रभावी घरेलू उपाय है।

(6) नारियल का तेल

दाद के कारण होने वाली खुजली को रोकने के लिए शरीर के प्रभावित हिस्से पर नारियल का तेल लगाएं।

(7) तुलसी

तुलसी के ताजे पत्ते लें और इसका रस निकालें। रस को प्रभावित क्षेत्र पर लागू करें यह बहुत ही बेहतर परिणाम देगा।

(8) लहसुन

लहसुन की कली लें और इससे प्रभावित हिस्से को रगड़ें। आप इन कलियों को सुखा सकते हैं और उन्हें प्रभावित जगह पर लगाकर उन्हें कपड़े या पट्टी से ढक सकते हैं।

(9) चाय-कॉफी

कॉफी, चाय, और बोतलबंद जूस, डिब्बाबंद भोजन से बचने की कोशिश करें क्योंकि ये आपके शरीर के लिए अच्छे नहीं हैं। इनके कारण भी दाद होने का खतरा रहता है।

(10) कच्ची हल्दी

कच्ची हल्दी का रस लें, दाद पर लागू करें। 1 चम्मच हल्दी के रस में 1 चम्मच शहद मिलाकर भी प्रभावित क्षेत्र पर लगा सकते हैं।

(11) लेमनग्रास

दिन में तीन बार अदरक की चाय या लेमनग्रास चाय या काढ़ा बनाकर पिएं। इससे संक्रमण दूर होता है और दाद ठीक होने में मदद मिलती है।

अन्य टिप्स

  • खूब पानी पिएं और जितना हो सके ताज़ी हवा लें। प्रतिदिन दो बार स्नान करें और स्नान से पहले हथेली से प्रभावित क्षेत्र की मालिश करें।
  • प्रभावित लोगों के कपड़े या अन्य लेख जैसे कंघी, ब्रश आदि का उपयोग करने से बचें, या उपयोग करने से पहले इन सभी को गर्म पानी से साफ़ करें।
  • एक तांबे का सिक्का लें और इसे सेब साइडर सिरका के साथ भिगोएँ और इसे दाद से प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।
  • पालतू जानवरों, अन्य जानवरों से दूर रहें।
  • संक्रमण काल में पनीर, दही, या खट्टे सूप जैसे खट्टे पदार्थों से बचना चाहिए।
  • दाद से छुटकारा पाने के लिए सहजन और नीम का सेवन करना चाहिए।

नोट: इस पोस्ट और वेबसाइट के माध्यम से उपलब्ध टेक्स्ट(Text) , ग्राफिक्स, चित्र, और जानकारी सहित सभी सामग्री केवल सामान्य जानकारी उद्देश्यों के लिए है। कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *