Amla Kya Hota Hai

आँवला-Amla Kya Hota Hai | Amla ke Fayde

आंवला क्या होता है Amla Kya Hota Hai। आँवला फल देने वाला ऐसा वृक्ष है जिसकी ऊंचाई करीब 6 से 8 मीटर तक होती है। 

आंवला Amla Kya Hota Hai स्वाद में खट्टा और कसीला होता है। यह वृक्ष झाड़ीदार होता है।

वैसे तो यह यूरोप और अफ्रीका में पाया जाता भी पाया जाता है मगर आँवले की सबसे ज्यादा पैदावार एशियाई देशों में होती है। इसके अधिकतर फल छोटे होते है मगर किसी-किसी वृक्ष के फल थोड़े बड़े होते है।

पर्वतीय क्षेत्र में आंवले के वृक्ष बहुत मात्रा में मिलते है। इसके फल हरे रंग के गुदेदार और गुठली वाले होते है।

आंवले को उगाने के लिए बीज से अधिक कलम लगाना ज्यादा अच्छा माना जाता है। यह मिट्टी में जल्दी जड़ जमा लेता है और इसमें फल भी शीघ्र लग जाते हैं।

Amla ke Fayde आंवले में कीड़े बहुत जल्दी लगते है क्यूंकि इसके पौधे और फल कोमल प्रकृति के होते है।

आंवले की व्यवसायिक खेती के दौरान यह ध्यान रखना पड़ता है कि पौधे और फलों को संक्रमण से रोका जाए।

शुरुआती दिनों में इनमें लगे कीड़ों और उसके लार्वे को हाथ से हटाया जा सकता है।

आयुर्वेद में आंवले के फल का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है। आयुर्वेद के अनुसार हरीतकी (हरड़) और आँवला दो सर्वोत्कृष्ट औषधियाँ हैं। इन दोनों में आँवले का महत्व अधिक है।

प्राचीन ग्रंथो में आंवले को शिवा (कल्याणकारी) धात्री (माता की तरह रक्षा करनेवाला) कहा गया है।और भी कई प्रकार के रोगों के निवारण के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। सौंदर्य प्रसाधनों Beauty tips hindi में भी आंवले का इस्तेमाल बड़े स्तर पर किया जाता है। सौंदर्य बढ़ाने में हल्दी का उपयोग

आंवले के कई नाम

  • संस्कृत – आमलकी, पंचरसा, अमृतफल, अमृता
  • वैज्ञानिक – फ़िलैंथस एँबेलिका (Phyllanthus emblica)
  • हिंदी – आँवला
  • अंग्रेजी – गूज़बेरी (Gooseberry) या (Indian Gooseberry)

आंवले में मौजूद तत्व

  • विटामिन “C” सी
  • प्रोटीन
  • कार्बोहाइड्रेट्स
  • कैल्शियम
  • आयरन
  • फॉस्फोरस
  • मिनरल्स
  • निकोटिनिक एसिड
  • गैलिक एसिड
  • टैनिक एसिड

आंवला औषधीय गुणों से युक्त होता है, इसलिए इसकी व्यवसायिक खेती किसानों के लिए लाभदायक होती है। यह एशियाई और यूरोपीय देशों में अधिक पाया जाता है

आंवले के औषधीय गुण

  • छाती के रोगों में लाभदायक
  • मूत्र विकार को दूर करता
  • रक्त विकार दूर करता
  • चर्म रोग में लाभदायक
  • कब्ज को दूर करता है 
  • उदर विकार को दूर करने के लिए
  • पाचन शक्ति में खराबी
  • मोटापा दूर करता है Weight Loss Tips in Hindi
  • बालों को काला, लम्बा और घना करने में लाभदायक
  • दांतों का पीलापन – मसूड़ों की खराबी दूर होना
  • सिर दर्द दूर होना
  • बल-वीर्य में कमी को दूर करता है

ये भी पढ़ें : आंवले का अचार बनाने की विधि

इनके सब लाभों के अतिरिक्त अतिसार, दाह, अम्लपित्त, खाँसी, श्वास रोग, कब्ज, अरुचि, दमा, स्मरणशक्ति, स्वास्थ्य, यौवन, तेज, कांति तथा बलदायक औषधियों में इसका उपयोग होता है।

आंवले की पत्तियों के रस से कुल्ला करने पर मुँंह के छाले ठीक होते हैं।

आंवले के सूखे फलों में रात भर भिगोकर उस पानी से आँख धोने से सूजन दूर होती है। सूखे फलों को खूनी अतिसार, आँव, बवासीर और रक्तपित्त में तथा लौहभस्म के साथ लेने पर पांडुरोग और अजीर्ण में लाभदायक माना जाता है।

जलवायु के लिहाज से भारत आँवले Amla Kya Hota Hai की खेती के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है। जनपद प्रतापगढ़ (उत्तर प्रदेश) आंवले के लिए बहुत प्रसिद्ध है। इसके फलों के अच्छे विकास के लिए सूरज की रौशनी बहुत आवश्यक है।

जहाँ तक इसको उगने के लिए मिट्टी की बात करें तो यह किसी भी मिट्टी में उगाया जा सकता है। परन्तु काली मिट्टी इसके लिए सबसे उपयुक्त मानी जाती है। ब्रिटेन, फ्रांस, इटली, स्कॉटलैंड, नॉर्वे आदि देशों में इसकी खेती सफलतापूर्वक की जाती है।

पोटाशियम सल्फाइड कीटाणुओं और फफुंदियों की रोकथाम के लिए उपयोगी माना जाता है।

ये भी पढ़ें

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *