iraq-baghdad-100-dies-2

इराक़ में बिगड़ी स्थिति – 60 लोगों की मौत की खबर

पिछले 4 दिनों में बगदाद में आम जनता द्वारा विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। देश में बढ़ रही बेरोज़गारी और भ्रष्टाचार से तंग होकर लोगों ने सरकार के खिलाफ इन प्रदर्शनों का आरंभ किया है। देश की सार्वजनिक सेवाएं का स्तर भी लगातार गिर रहा है। इस सब के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए देश के ज़्यादातर युवा इस प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे हैं।

वह सरकार की कार्यप्रणाली से बेहद नाखुश हैं। 4 दिन से चल रहे इस प्रदर्शन में कई लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। मरने वालों की संख्या करीब 60 बताई जा रही थी परंतु पिछले 2 दिनों से यह संख्या दुगुनी हो गई है। करीब 200 लोगों के घायल होने की भी खबर सामने आ रही है। मरने वालों की संख्या में 2 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

इराक़ के प्रधानमंत्री अदेल अब्देल मेहदी के प्रति भी जनता ने अपनी नाराज़गी दिखाई है। उनका कहना है कि वह जनता को अपने झूठे वादों से गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार का बचाव करते हुए बयान दिया की स्थितियां बदलने में समय लगता है। उनके पास कोई जादू की छड़ी नहीं है जिससे वह सरलता से सब कुछ एक पल में बदल दें। उन्होंने लोगों से धैर्य रखने को कहा और विश्वास दिलाया कि गरीब लोगों की सहायता करने के लिए उनकी सरकार परस्पर तैयार है।

iraq-baghdad-100-dies

प्रधानमंत्री कि किसी भी अपील को ना मानते हुए प्रदर्शनकारी और उग्र होते हुए नज़र आ रहे हैं। जिसके चलते बगदाद और कई अन्य शहरों में कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। इंटरनेट सेवाओं को भी ब्लॉक कर दिया गया है।

सेना के अनुसार दो अज्ञात बंदूकधारियों ने गोलियां चलाकर 4 लोगों की हत्या कर दी जिसमें 2 पुलिसकर्मी भी शामिल थे। वहीं शुक्रवार को प्रशासन द्वारा भी तहरीर चौक पर पहुंचने की कोशिश करने वाले प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी की गई।

इराक़ के श्रेष्ठ नेता अयातोल्लाह अली अल ने भी इस पूरी घटना पर शोक व्यक्ति किया। उनके वक्ता अहमद अल सेफी ने भी सरकार को नाकामयाब बताते हुए कहा कि जनता बेहद दुखदायक स्थिति में है, प्रशासन को उनकी सहायता करने के लिए बदलाव ले कर आना ही पड़ेगा।

अमेरिका ने भी इराक़ की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए प्रशासन से अनुरोध किया कि वह स्थिति पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें।

मानवाधिकार समूह एमनेस्टी इंटरनेशनल ने भी प्रशासन को प्रदर्शनकारियों के साथ धैर्य बरतने का सुझाव दिया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *