क्या हैं नींबू पानी के 6 अद्भुत फायदे ?

क्या आप जानते हैं आप के सिर्फ एक छोटे से बदलाव से आप खुद को एक तंदरुस्त शरीर, खूबसूरत त्वचा और बेहतर प्रतिरक्षा प्रणाली प्रदान कर सकते हैं? जी हां ! अपनी दिनचर्या में सिर्फ एक छोटे से बदलाव से यह सब मुमकिन किया जा सकता है।

अपने दिन की शुरुवात एक ग्लास नींबू पानी से करके आप खुद को एक बेहतर जीवन दे सकते हैं ।

आइए हम बताते हैं आपको नींबू पानी के कुछ लाजवाब फायदे।

1. जलयोजन

जलयोजन शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। जल्योजन हमारी पाचन शक्ति को ठीक रखने में सहायता करता है और शरीर से हानिकारक टॉक्सिंस को भी खत्म कर देता है।

मनुष्य शरीर में कुल 60% सिर्फ पानी है, इसलिए अधिक से अधिक पानी का ग्रहण करना बेहद आवश्यक माना जाता है। हमारी पाचन शक्ति को मज़बूत करते हुए, नींबू पानी हमें पेट की कई बीमारियों जैसे कि पेट का फूलना और उभार से सुरक्षित रखता है।

2. अन्य मीठे पेयों से बेहतर

अगर आपको अन्य मीठे पेयों का सेवन करने की आदत है तो उसकी जगह आपको नींबू पानी का ग्रहण करना शुरू कर देना चाहिए। सोडा और अन्य स्पोर्ट्स ड्रिंक्स का शरीर पर भारी नुकसान है। इनसे मधुमेह और अन्य रोगों के होने का खतरा बना रहता है।

परंतु नींबू पानी पीने से आप अपने चयापचय को बड़ा सकते हैं। पानी पीने से शरीर में गर्मी पैदा होती है जिससे चयापचय की प्रक्रिया सही तरीके से संपन्न होती है।

3. खूबसूरत त्वचा

कम पानी पीने से त्वचा बे-जान और रूखी हो जाती है। पानी का सेवन करने से त्वचा में एक नया निखार पैदा हो जाता है। नींबू में भारी मात्रा में ‘ विटामिन सी’ पाया जाता है। इसलिए पानी में नींबू डालने से हम उसमें नींबू के एंटी -इन्फ्लेमेटरी और एंटी- आक्सिडेंट गुणों को भी जोड़ देते हैं जो कोलेजन उत्पादन और स्थिरीकरण में मदद करता है।

4. प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देना

अपने एंटी आक्सिडेंट गुण के कारण नींबू हमें बीमारियों और संक्रमणों से सुरक्षित रखता है। यह जीवाणुओं से लड़ कर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बेहतर कर देता है। यह हमें सर्दी ज़ुकाम से लड़ने में भी सहायता करता है।

5. पाचन शक्ति को बेहतर करना

नींबू पानी हमारी पाचन शक्ति को बड़ा कर हमें कब्ज जैसी बिमारियों से दूर रखता है। शरीर से हानिकारक टॉक्सिंस को निकाल कर, यह जल अवधारण को कम करता है जिससे सूजन और फुलावट जैसी तकलीफें नहीं उत्पन्न होती।

6. पथरी से सुरक्षा

नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड और पोटैसियम हमें गुर्दे में होने वाले पथरी से बचाता है। पोटैसियम सिट्रेट ,कैल्शियम के साथ जुड़ कर शरीर से बाहर निकल जाता है। इस प्रकार शरीर में अधिक कैल्शियम इकठ्ठा नहीं हो पाता जिससे की पथरी बन पाए।
अधिक पानी पीने से मूत्र प्रवाह में भी बढ़ोतरी होती है और पथरी नहीं बन पाती।

कब करना चाहिए नींबू पानी का सेवन?

सुबह उठते ही गुनगुने पानी में नींबू डाल कर सेवन करने से हम स्वयं को एक तंदरुस्त जीवन प्रदान कर सकते हैं।इस तरह आप अपने दिन की एक खूबसूरत और स्वस्थ शुरुवात कर सकते हैं। शरीर में उत्पन्न होने वाले सभी टॉक्सिंस नींबू पानी के साथ शरीर से निकल जाते हैं।

आयुर्वेद के अनुसार गुनगुने पानी के साथ नींबू लेने से पाचन अग्नि शांत हो जाती है। जिसका अर्थ है कि यह पाचन शक्ति को बेहतर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

अधिक नींबू पानी पीने के नुकसान

अधिक नींबू पानी पीना भी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। अधिक सिट्रिक एसिड हमारे दांतों से इनामेल(तामचिनी) की परत को हटा देता है जिससे दांतों की मज़बूती कम हो जाती है। इसलिए कहा जाता है कि हमें नींबू पानी पीने के 30 मिनट बाद ही दांतों को ब्रश करना चाहिए।

एसिडिटी और एसिड रिफ्लक्स (गर्ड) जैसे बीमारियों से पीड़ित लोगों को नींबू पानी का अधिक सेवन नहीं करना चाहिए।

होटल या रेस्टोरेंट में परोसे गए नींबू के टुकड़ों को पानी में डाल कर पीना भी हानिकारक हो सकता है। आस पास के कीटाणु भी इस तरह हमारे शरीर में जा कर हमें बीमार कर सकते हैं।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *